Friday 05 March 2021, 02:57 AM
नक्सल, उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों के लिए सीआरपीएफ की 'रक्षिता'
By रजनीश सिंह | Bharat Defence Kavach | Publish Date: 1/18/2021 4:27:57 PM
नक्सल, उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों के लिए सीआरपीएफ की 'रक्षिता'

नई दिल्ली: स्वदेशी रूप से विकसित एक बाइक एम्बुलेंस 'रक्षिता' सोमवार से नक्सल प्रभावित राज्यों या उग्रवाद प्रभावित पूर्वोत्तर क्षेत्रों के दूरदराज और दुर्गम इलाकों में तैनात सीआरपीएफ कर्मियों के जीवन को बचाएगी।

आपातकालीन निकासी की जरूरतों के लिए सावधानी से कस्टम बनाया गया है। 'रक्षिता' एक रॉयल एनफील्ड क्लासिक 350सीसी बाइक पर बनाया गया है।

यह एक त्वरित फिट और कैजुअल्टी निकासी सीट (सीएसई) के साथ आता है, जिसमें ड्राइवर के लिए निगरानी क्षमता और ऑटो चेतावनी प्रणाली के साथ कस्टमाइजिंग डिजाइन रीक्लाइनिंग, हैंड इमोबिलाइजर और हार्नेस जैकेट, फिजियोलॉजिकल पैरामीटर माप उपकरण होते हैं।

सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण मापदंडों, एयर स्प्लिंट मेडिकल और ऑक्सीजन किट, सैलाइन और ऑक्सीजन एडमिनिस्ट्रेशन जैसे महत्वपूर्ण पैरामीटर के लिए डैशबोर्ड माउंटेड एलसीडी आदि विशेषताओं से यह लैस है।

सीआरपीएफ के उप महानिरीक्षक एम. दिनाकरन ने आईएएनएस को बताया कि ये उपकरण रक्षिता को ऑन स्पॉट मेडिकल केयर और इंजर्ड ट्रांसपोर्च सिस्टम बनाते हैं। जो न केवल स्वदेशी और लागत प्रभावी है, बल्कि संकरी गलियों, भीड़भाड़ और अनचाही सड़कों का पता लगाकर दुर्गम या दूरस्थ स्थानों तक भी पहुंच सकती है, जहां पारंपरिक चार पहिया वाले एंबुलेंस का पहुंचना मुश्किल होता है। बाइक एम्बुलेंस को रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) न्यूक्लियर मेडिसिन एंड अलाइड साइंसेज (इनमास) द्वारा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के सहयोग से विकसित किया गया है।

इसी तरह की 21 'रक्षिता' बाइक एंबुलेंस को सोमवार को 3.5 लाख बल के सीआरपीएफ में शामिल किया गया। ये बाइक एम्बुलेंस सीआरपीएफ मुख्यालय में सीआरपीएफ के महानिदेशक ए.पी. माहेश्वरी और ए.के. सिंह, डीएस और डीजी (एलएस), डीआरडीओ की मौजूदगी में लॉन्च किए गए।

Tags:

स्वदेशी,विकसित,बाइक,एम्बुलेंस,रक्षिता,नक्सल,सीआरपीएफ,

DEFENCE MONITOR

भारत डिफेंस कवच की नई हिन्दी पत्रिका ‘डिफेंस मॉनिटर’ का ताजा अंक ऊपर दर्शाया गया है। इसके पहले दस पन्ने आप मुफ्त देख सकते हैं। पूरी पत्रिका पढ़ने के लिए कुछ राशि का भुगतान करना होता है। पुराने अंक आप पूरी तरह फ्री पढ़ सकते हैं। पत्रिका के अंकों पर क्लिक करें और देखें। -संपादक

Contact Us: 011-66051627

E-mail: [email protected]

SIGN UP FOR OUR NEWSLETTER
NEWS & SPECIAL INSIDE !
Copyright 2018 Bharat Defence Kavach. All Rights Resevered.
Designed by : 4C Plus